Two-Step Verification Kya Hai?

इन्टरनेट की दुनिया में सुरछित रहना तो ठीक है लेकिन दुगनी सुरछा के साथ रहा जाये तो और भी बेहतर होगा, यहाँ आज हम बात करने वाले है की आप अपाने अकाउंट को दुगुनी सुरछा कैसे प्रदान करें यानिकी अगर आप भी अपने अकाउंट में Two-Step Verification शुरू करना कहते है तो आज की पोस्ट आपके लिए महतवपूर्ण होने वाली है

Two-Step Verification Kya Hai?

हम लोग अपने अधिकतर अकाउंट में पासवर्ड एक जैसे रख देते है ताकि हम आसानी से याद रख सके, लेकिन यह आपके अकाउंट की सुरछा को कमजोर बनाता है क्योंकि यदि आपका एक भी पासवर्ड लीक हुआ तो आपके सभी अकाउंट्स असुरक्षित हो जाएंगे इस वजह से Two-Step Verification आज के समय में महत्वपूर्ण माना जाता है

Two-Step Verification क्या है?

यह एक प्रकार की सुरक्षा परत होती है जो कि आपके अकाउंट की सिक्योरिटी को दुगना कर देती है या फिर दूसरी भाषा में हम कहें तो आपके अकाउंट की सिक्योरिटी को डबल कर देती है इसीलिए इसका नाम Two-Step Verification कहा जाता है इसे हम Two-Step Authentication भी कहते है

Two-Step Verification को यदि हम हिंदी में समझें तो इसे ‘दो चरणीय सत्यापन’ कहते हैं यानी कि आपके अकाउंट का सत्यापन दो चरणों में किया जाता है पहला जब आप पासवर्ड डालते हैं और दूसरा जब आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर OTP आता है तब आप उसे निश्चित स्थान पर डालकर अपने अकाउंट में Login होते हैं

दो चरणीय सत्यापन को यूज करना बहुत आसान है अलग-अलग वेबसाइटों पर या एप्लीकेशंस पर यह तरीके अलग-अलग होते हैं जिसे आप आसानी से समझ कर Two-Step Verification को शुरू कर सकते हैं

Two-Step Verification कैसे काम करता है?

आपके अकाउंट में Two-Step Verification एक्टिवेट होता है तो आपके पासवर्ड लीक होने पर भी आपका अकाउंट सुरक्षित माना जाता है क्योंकि जब आप Login करते हैं तो आपके पास पासवर्ड डालने के बाद आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर OTP आता है जो कि सिर्फ आप ही को पता रहता है उसे डाल कर ही आप अपने अकाउंट में लॉगिन हो सकते हैं

यूजर आईडी और पासवर्ड डालने के बाद जो ओटीपी आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर आता है और वह नंबर आप निश्चित जगह पर एंटर करते हैं तब आपका अकाउंट लॉगिन हो जाता है इस प्रक्रिया को या इस तरह से Two-Step Verification काम करता है

यहाँ ध्यान दे,

SSL Kya Hai, Website Ko Kaise Protect Kare?
End-to-end encrypted Kya Hai?
CVV Kya Hai, Yah Kya Kaam Karta Hai?
VPN Kya Hai, Ise Kaise Istemal Kare?

Two-Step Verification Whatsaap

दोस्तों आज के समय में हम अपने Whatsapp का यूज बहुत अधिक मात्रा में करते हैं इसलिए इसका सुरक्षित होना बहुत महत्वपूर्ण हो जाता है इसे सुरक्षित बनाने के लिए Whatsapp हमें Two-Step Verification का ऑप्शन प्रदान करता है जिसकी सहायता से आप अपने Whatsapp अकाउंट को दुगनी सुरक्षा प्रदान कर सकते हैं

Whatsapp में Two-Step Verification को Active करने के लिए यहां दी हुई स्टेप्स को आप ध्यान से समझकर फॉलो करें

सबसे पहले आपको अपने Whatsapp को ओपन करना है ओपन करने के बाद दाहिने और सबसे ऊपर की तरफ 3 डॉट्स दिखाई देंगे वहां आपको टेप करना है

Whatsapp


3 डॉट्स पर टेप करने के बाद आपको Setting ऑप्शन नजर आएगा उसे आपको सिलेक्ट करना है

Two-Step Verification


अब आपको Account ऑप्शन को सिलेक्ट करके Two-Step Verification पर टेप करना है

Two-Step Verification


अब आपको यहां पर सबसे नीचे Enable बटन नजर आ रहा होगा उस पर आपको टेप करना है

यहां आप अपने पसंद के हिसाब से 6 डिजिट का Two-Step Verification कोड डाल सकते हैं इसके बाद Next विंडो में आपको वही कोड दोबारा से डालना होगा

जब आप 6 डिजिट का कोड डाल देंगे उसके बाद आपको Backup Email ID डालनी होगी जिसके मदद से आप यदि अपना Two-Step Verification कोड भूल भी जाते हैं तो आप उस Email ID से अपने कोड को Recover कर सकते हैं

Verification Email

यह सारी प्रक्रिया करने के बाद Whatsapp पर Two-Step Verification शुरू हो जाएगा अब आप जब भी Whatsapp लॉगिन करेंगे तो Two-Step Verification आपको डालना होगा और यदि आप लंबे समय के बाद whatsapp को दोबारा ओपन करते हैं तब भी आपको Two-Step Verification डालना होता है

en.wikipedia.org/Two-factor authentication

Two-Step Verification के फायदे और नुकसान

इस टेक्नोलॉजी के समय में हम जितने ज्यादा सुरक्षित होते जा रहे हैं उतना ही सुरक्षा हमारे लिए कभी-कभी दुखदाई भी बन जाती है जैसे आज के इस पोस्ट में Two-Step Verification के कुछ फायदे और नुकसान आपको मैं बताऊंगा तब आप शायद यह जान पायेगें कि ज्यादा सुरक्षा हमारे लिए हानिकारक भी हो सकती है

फायदे

Two-Step Verification का सबसे बड़ा फायदा यह है कि आप इसके जरिए अपने अकाउंट को दुगनी सुरक्षा प्रदान कर सकते हैं

यदि आपके अकाउंट पर Two-Step Verification एक्टिवेट है तो आपका यूजर आईडी, पासवर्ड लीक हो जाने के बाद भी आपके अकाउंट में कोई Login नहीं कर पाएगा

आप आसानी से अपना पासवर्ड किसी के साथ भी शेयर कर सकते हैं क्योंकि आखिरी स्टेप आपके द्वारा ही कंट्रोल की जाती है और उसके बाद ही आपका अकाउंट ओपन होता है

नुकसान

इसका सबसे बड़ा नुकसान यह होता है कि यदि आपके पास मोबाइल उपलब्ध नहीं है जब आप यदि अपने अकाउंट को Login कर रहे हैं तब आप अपने अकाउंट को बिना अपने मोबाइल के लॉगिन नहीं कर सकते क्योंकि जो Verification Code आता है वह आपके रजिस्टर्ड मोबाइल पर ही आएगा और तभी आप अपने अकाउंट को Login कर सकते हैं

निष्कर्ष

आज आपने जाना कि आप अपने अकाउंट को दुगनी सुरक्षा कैसे प्रदान कर सकते हैं Two-Step Verification के द्वारा आप अपने अकाउंट को बेहतर सुरक्षा दे सकते हैं क्योंकि इसमें आपके पास ही पूरा कंट्रोल होता है यदि आप वेरीफाई कोड के द्वारा अपने अकाउंट को Login नहीं करेंगे तब तक आपका अकाउंट login नहीं हो पाएगा इस तरह से आपका अकाउंट दुगनी सुरक्षा परत के साथ सिक्योर हो जाता है

आज की पोस्ट आपको पसंद आई होगी यदि आपको कोई कमेंट या सुझाव हो तो आप हमें कमेंट बॉक्स में लिखकर जरूर बताएं और हमें बेहतर सेवा का मौका प्रदान करें

धन्यवाद