IP Address Kya Hota Hai?

इंटरनेट की दुनिया ने हमारी जिंदगी बहुत आसान बना दी है जिसकी सहायता से हम कोई भी जानकारी हासिल कर सकते हैं लेकिन क्या हो जब आप इंटरनेट पर किसी निश्चित एड्रेस को सर्च ना कर पाए, आईपी एड्रेस हर डिवाइस का एक Unique Address होता है जिससे डिवाइस को Track करना या ढूंढना आसान हो जाता है

IP Address logo

आईपी एड्रेस के बिना हम इंटरनेट को एक्सेस नहीं कर सकते यह हमें एक Unique ID के रूप में इंटरनेट की सुविधा प्रदान करता है जिसे हम IP Address कहते हैं चलिए देखते हैं कि IP Address किस तरह काम करता है और इसका यूज कहां होता है

IP Address क्या है?

IP Address एक यूनिक एड्रेस होता है जिसका पूरा नाम Internet Protocol Address है इसे हम आसान भाषा में IP भी कहते हैं इसकी मदद से किसी भी डिवाइस को आसानी से Identify या Track किया जा सकता है इसके लिए हमें इंटरनेट या लोकल नेटवर्क की जरूरत होती है

आईपी एड्रेस सुविधा की सहायता से हम किसी भी डिवाइस या सिस्टम से कनेक्ट हो सकते हैं जोकि इंटरनेट प्रोटोकॉल के तहत किया जाता है IP Address एक डिवाइस को Allow करता है दूसरे डिवाइस के साथ Communicate करने के लिए एक IP बेस्ड नेटवर्क होता है

जिस तरह हम Address का पता होने पर उस एड्रेस पर आसानी से पहुंच सकते हैं ठीक उसी तरह आईपी एड्रेस काम करता है जो कि इंटरनेट की सहायता से हमें किसी भी डिवाइस की Identify या Track करने में मदद करता है

IP Address के प्रकार

IP Address के दो प्रकार होते हैं Private IP Address और Public IP Address

Private IP Address – मोबाइल, कंप्यूटर या कोई भी डिवाइस एक से अधिक डिवाइस केबल या वायरलेस के माध्यम से कनेक्ट होते हैं तो उसे Private IP Address कहा जाता है इस प्रकार के कनेक्शन को जो एक से अधिक डिवाइस जिस आईडी से कनेक्ट होते हैं उसे Private IP Address कहा जाता है

Public IP Address – Public IP Address को बदला नहीं जा सकता, यह इंटरनेट सेवा प्रोवाइडरो द्वारा दिया जाता है जैसे की Website या DNS Server इसके अलावा भी अन्य तरीके होते है

इसे भी जरूर पड़े,
Google Lens Kya Iska Kaise Upyog Kare?
Podcast Kya Hota Hai Ise Kaise Shuru Kare?
Photo Resize Kaise Kare?
Refurbished Mobile Kaise Hote Hai?

IP Address कैसे पता करें?

यदि आपको अपना आईपी एड्रेस पता करना है तो आप आसानी से वेबसाइट के माध्यम से इसे पता कर सकते हैं यहां आपको दी हुई वेबसाइट के माध्यम से आप अपने आईपी एड्रेस को पता कर सकते हैं या फिर आप एक और तरीके से भी आईपी एड्रेस को पता कर सकते हैं जो कि आपको अगली स्टेप में बताया

whatismyipaddress.com

आईपी एड्रेस को पता करने के लिए दूसरी स्टेप यह है कि आपको कंट्रोल पैनल के Network Setting को सिलेक्ट करना है

इसके बाद आप जिस नेटवर्क से इंटरनेट को एक्सेस कर रहे हैं उस पर राईट क्लिक करना है

यहां आपको कई सारे ऑप्शन दिखाई देंगे जिनमें से आपको डिटेल्स बटन पर क्लिक करना है इसके बाद आपके सामने नेटवर्क कनेक्शन डिटेल की विंडो ओपन हो जाएगी

अब आपको यहां पर ipv4 ऐड्रेस को चेक करना है यही आपका ip-address कहलाता है

आईपी एड्रेस के वर्जन

आईपी एड्रेस के वर्जन दो प्रकार के होते हैं ipv4 और ipv6

ipv4 – ipv4 का मतलब इंटरनेट प्रोटोकोल वर्जन 4 होता है यानी कि यह इंटरनेट प्रोटोकॉल का चौथा रिवीजन कहलाता है

इसका इस्तेमाल सबसे ज्यादा होता है डिवाइस को कनेक्ट करने के लिए ipv4 में 32 बिट एड्रेस स्कैन का इस्तेमाल किया जाता है

इंटरनेट का बढ़ता यूज देखकर यह अनुमान लगाया जा सकता है कि धीरे-धीरे ipv4 ऐड्रेस खत्म हो जाएगा क्योंकि भविष्य में कंप्यूटर स्मार्टफोन गेमिंग कंसोल्स और भी अन्य डिवाइसों को इंटरनेट के साथ कनेक्ट होने के लिए एक बेहतर एड्रेस की जरूरत होगी

ipv6 – ipv6 इंटरनेट प्रोटोकोल वर्जन सिक्स कहा जाता है यह ipv4 की कमियों को पूरा करता है आसान भाषा में आप यह समझ सकते हैं कि ipv4 को अपडेट कर कर ipv6 का निर्माण किया गया है

इसे हम आई पी एन जी भी कह सकते हैं आईपीएनजी को इंटरनेट प्रोटोकॉल नेक्स्ट जेनरेशन कहा जाता है इसे ipv4 का सक्सेसर माना गया है

निष्कर्ष

आज की जानकारी में आपने जाना कि आई पी एड्रेस क्या होता है और इसका कैसे यूज़ किया जाता है इसके अलावा आपने यह भी जाना कि यह कैसे समय के साथ अपडेट हुआ ताकि हम आसानी से इंटरनेट की सुविधा का लाभ उठा पाए

उम्मीद है कि आज की जानकारी आपको पसंद आई होगी यदि आपको कोई कमेंट या सुझाव हो तो आप हमें कमेंट बॉक्स में लिखकर जरूर बताएं और हमें बेहतर सेवा का मौका प्रदान करें

धन्यवाद

1 thought on “IP Address Kya Hota Hai?”

Comments are closed.