Front end or Back end Kya Hota Hai, Inme Kya Antar Hota Hai

आज के समय में हर Business Operator के पास एक Website होती है इस वेबसाइट के माध्यम से वह अपने बिजनेस को Grow करता है और अपनी Audion’s को इकट्ठा भी करता है वेबसाइट जितनी Attractive और सुंदर दिखेगी User उतना ही वेबसाइट को पसंद करेगा यहां आप आज जानेंगे कि Front end और Back end क्या होता है

Front end or Back end logo

आज की पोस्ट में आप वेबसाइट से जुड़ी हुई कुछ खास बातों के बारे में जानेंगे जो कि एक वेबसाइट के लिए महत्वपूर्ण दो पहलू जिन्हें Front end और Back end कहा जाता है यह दोनों ही एक User और Developer नियंत्रित करता है तो चलिए जानते हैं कि Front end और Back end क्या होता है यह किस तरह कार्य करतें है

Front end क्या है?

Front end मुख्य रूप से Website का वह हिस्सा होता है जो कि User द्वारा देखा जाता है यानी कि Web Browser पर देखा गया Website का वह हिस्सा जोकि User अपने हिसाब से Control या Optimize कर सकता है वह Front end कहलाता है

इसके अंतर्गत Website के डिजाइन जैसे theme और भी कई सारी चीजें होती हैं इसका Infrastructure ज्यादा होता है जो कि यूजर द्वारा अनुभव किया जाता है यह Web Designer के अंतर्गत आता है

Back end क्या है?

यह वेबसाइट का वह मुख्य हिस्सा होता है जो कि आधार माना जाता है इसी की मदद से हम किसी भी Website को Operate कर सकते हैं इसके अंतर्गत Update और कई प्रकार के Changes वेबसाइट में किए जाते हैं आसान भाषा में समझे दो Back end वेबसाइट का वह हिस्सा होता है जिस पर निर्भर होकर Website कार्य करती है यदि Back end नहीं होगा तो वेबसाइट भी काम नहीं कर पाएगी

Back end को Web Browser या User के माध्यम से नहीं देखा जा सकता इन्हें Programmer या Developer ही ऑपरेट या देख सकते हैं इसके अंतर्गत Security और Content Management को व्यवस्थित किया जाता है

Front end और Back end महत्व

अभी तक आपने जाना की Front end और Back end किस तरह से कार्य करते हैं और इन्हें कैसे यूज किए जाता हैं यदि हम इनके महत्व पर नजर डालें तो यह एक Website के अस्तित्व में अहम भूमिका निभाते हैं इनमें से यदि एक भी नहीं होगा तो वेबसाइट का कोई वजूद नहीं है

Front end का इस्तेमाल यूजर द्वारा किया जाता है वही Back end वेबसाइट का आधार माना गया है जिसकी वजह से वेबसाइट Run होती है

Developer द्वारा Back end में मौजूद कई सारी Activity करके वेबसाइट को Stable बनाया जाता है जिससे कि Front end का इस्तेमाल करने वाला यूजर उसे आसानी से इस्तेमाल कर सकें

Back end के अंतर्गत PHP, HTML, CSS जैसी कई प्रकार की चीजें आती हैं और Front end में यूजर वेबसाइट को Visit वेब ब्राउज़र द्वारा कर सकता है साथ ही साथ यूजर Website का Design, Language आदि अपने मुताबिक बदल भी सकता है

Front end का इस्तेमाल करके Website की Popularity को बढ़ाया जा सकता है वहीं Back end का इस्तेमाल करके Website के Performance को बढ़ाया जाता है

www.codehindi.com

निष्कर्ष

आज की पोस्ट में आपने Website से जुड़ी हुई दो महत्वपूर्ण चीजों को जाना जिन्हें Front end और Back end कहा जाता है इनकी वजह से ही एक Website संपूर्ण रूप से Performance के लिए तैयार होती है

उम्मीद है कि आज की पोस्ट आपको पसंद आई होगी यदि आपका कोई कमेंट या सुझाव हो तो आप हमें कमेंट बॉक्स में लिखकर अवश्य बताएं और हमें बेहतर सेवा का मौका दें

धन्यवाद